प्रैक्टिस के दौरान टॉयलेट तक नहीं होगा खिलाड़ी, अपनी टोपी अंपायर को पकड़ना पर बैन- icc प्रतिबंध टॉयलेट ब्रेक अभ्यास के दौरान अंपायर दस्ताने पहनने के लिए | क्रिकेट – समाचार हिंदी में

0
5


प्रैक्टिस के दौरान टॉयलेट तक नहीं होगा खिलाड़ी, अपनी टोपी अंपायर को पकड़ना पर बैन

क्रिकेटरों के लिए ऐसे नियम बने, पालन करना मुश्किल होगा!

आईसीसी (ICC) ने कोरोनावायरस के बाद क्रिकेट शुरू होने से पहले सभी टीमों और खिलाड़ियों के लिए दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं

दुबई। इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) ने कोरोनावायरस के बाद क्रिकेट शुरू करने से पहले खिलाड़ियों और टीमों के लिए दिशा-निर्देश जारी किए हैं। ये दिशा-निर्देश कई खिलाड़ियों को भारी पड़ सकते हैं। इनसे खिलाड़ियों को काफी तकलीफ भी होती है। कोरोनावायरस महामारी के बाद जब खेल शुरू होगा तो आंतरिक क्रिकेटरों को अपनी कुछ आम आदतों को बदलना पड़ेगा जैसे उन्हें अभ्यास के दौरान शौचालय जाने और मैदानी अंपायरों को अपनी टोपी या सनग्लास सौंपने की इजाजत नहीं होगी।

आईसीसी का दिशा-निर्देश

आंतरिक क्रिकेट परिषद (ICC दिशानिर्देश) के दिशानिर्देशों के अनुसार खिलाड़ी अपने निजी सामान जैसे कैप, तौलिया, सनग्लास, जम्पर्स आदि अंपायर या साथियों को नहीं सौंप सकते हैं और उन्हें शारीरिक दूरी बनाएये रखनी होगी। लेकिन यह स्पष्ट नहीं किया गया है कि खिलाड़ियों का सामान कौन दिखाता है। यही नहीं अंपायरों को भी गेंद को पकड़ते समय द हिंदों का उपयोग करना होगा। खिलाड़ी अपनी कैप और धूप के प्रतिबिंबमों को मैदान पर नहीं रख सकते क्योंकि इससे पेनल्टी रन जा सकते हैं जैसे कि हेलीकॉप्टर के मामले में होता है। आईसीसी इसके साथ ही चाहता है कि खिलाड़ी मैच से पहले और मैच के बाद ड्रेसिंग रूम में कम समय बिताये।

आईसीसी क्रिकेट समिति पहले ही गेंद पर लार लगाने पर प्रतिबंध की सिफारिश कर चुकी है और अब खिलाड़ियों को गेंद छूने के बाद आंखें, नाक और मुंह स्पर्श नहीं करने की सलाह दी गयी है और गेंद के संपर्क में आने के बाद अपने हाथ साफ करने के लिए। कहा गया है। अभ्यास के दौरान भी खिलाड़ियों की परेशानियां बढ़ सकती हैं क्योंकि उन्हें शौचालय का उपयोग करने की अनुमति नहीं होगी।आईसीसी ने ‘चिकित्सा अधिकारी’ की सिफारिश की

आईसीसी ने शुक्रवार को कोरोनावायरस बीमारी के बाद आंतरिक क्रिकेट की शूटिंग के लिए अपने दिशानिर्देशों में मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) की नियुक्ति और 14 दिन तक अलग थलग अभ्यास शिविर आयोजित करने की सिफारिश की। आईसीसी ने दुनिया भर में क्रिकेट की शूटिंग के लिए व्यापक दिशानिर्देश जारी किए और साथ ही उच्च सुरक्षा प्रोटोकॉल बनाये रखने पर भी ध्यान दिया। आईसीसी ने कहा, ‘मुख्य चिकित्सा अधिकारी या जैव सुरक्षा अधिकारी की नियुक्ति पर विचार करें जो सरकारी दिशानिर्देशों और अभ्यास और प्रतियोगिता की खातिर जैव सुरक्षा योजना लागू करने के लिए जिम्मेदार होगा।’

इसके दिशा-निर्देशों में कहा गया है, ‘मैच से पूर्व अलग थलग अभ्यास शिविर के आयोजन, स्वास्थ्य, तापमान जांच और कोरोना वायरस परीक्षण की जरूरत पर विचार करें। यात्रा से कम से कम 14 दिन पहले सुनिश्चित करें कि टीम कोरोनावायरस से मुक्त है। ‘ क्रिकेट की सर्वोच्च संस्था ने अभ्यास और प्रतियोगिता के दौरान उचित परीक्षण योजना तैयार करने की सिफारिश भी की। दुनिया में महामारी फैलने के बाद से ही क्रिकेट आंदोलनों के बंद है। इस बीमारी के कारण आगामी टी 20 विश्व कप पर भी खतरे के बादल मंडरा रहे हैं।

पाक के पूर्व गेंदबाज की बेटी के कपड़ों पर खड़े हुए सवाल, फैंस ने किया गंदे कम

News18 हिंदी पर सबसे पहले हिंदी समाचार पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें। देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें।

प्रथम प्रकाशित: 22 मई, 2020, 11:12 PM IST


इस दिवाली बंपर अधिसूचना
फेस्टिव सीजन 75% की एक्स्ट्रा छूट। सिर्फ 289 में एक साल के लिए सब्सक्राइब करें करें मनी कंट्रोल प्रो।कोड कोड: DIWALI ऑफ़र: 10 नवंबर, 2019 तक

->





Source link